Friday, July 12, 2024

हरियाणा में बाप-बेटे का झूठ चलने वाला नहीं: बिप्लब कुमार देब

 


बिप्लब देब ने कांग्रेस को बाप-बेटे की राजनीति और झूठ पर घेरा


चंडीगढ़ बैठक में शामिल होने पहुंचे थे हरियाणा विधानसभा चुनाव सह प्रभारी



नई दिल्ली 
आगामी हरियाणा विधानसभा चुनावों के लिए सह प्रभारी, त्रिपुरा के पूर्व मुख्यमंत्री एवं सांसद श्री बिप्लब कुमार देब  ने दावा किया कि भारतीय जनता पार्टी हरियाणा में पूर्ण बहुमत से  सशक्त सरकार तीसरी बार बनाने जा रही है।
चुनावी रणनीति को धार देने के लिए हुई महत्वपूर्ण नेताओं की बैठक के बाद चंडीगढ़ में बिप्लब कुमार देब ने कांग्रेस और उसके पिता-पुत्र कल्चर पर हमला बोला।
 उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी कार्यकर्ताओं की पार्टी है, परिवारवाद को बढ़ावा देने वाली पार्टी नहीं है और हम अपने नेता श्री नरेंद्र मोदी और जेपी नड्डा जी के नेतृत्व में सिर्फ और सिर्फ जनहित को ध्यान में रखकर सरकार चलाते हैं।
 हरियाणा में हमारा कामकाज लोगों के सामने है और जिस पारदर्शिता के साथ न्यायपूर्ण सरकार हमने चलाई है, उसको देखते हुए तीसरी बार भी हम ही सरकार बनाएंगे।
 बिप्लब ने हुड्डा पिता पुत्र और कांग्रेस पर आरोप लगाया कि ये वही कांग्रेस है जिसने देश के सबसे बड़े जाट नेता रहे पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह की सरकार गिराई थी और दूसरी तरफ भारतीय जनता पार्टी है जिससे चौधरी चरण सिंह जी को भारत रत्न दिया और जगदीप धनखड़ जी को उपराष्ट्रपति बनाया।
 ये कांग्रेस के नेता और पिता पुत्र ही बहकावे की और जातिवाद की राजनीति करते हैं।
 देब ने ये भी बताया कि आने वाले दिनों में गृह मंत्री अमित शाह हरियाणा प्रदेश भाजपा के ओबीसी मोर्चा द्वारा आयोजित होने जा रहे एक कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। भारतीय जनता पार्टी ने क्रिमीलेयर की सीमा को 6 लाख से बढ़ाकर 8 लाख किया है, इसलिए ओबीसी मोर्चा के कार्यकर्ता अमित शाह जी का धन्यवाद करना चाहते हैं।
बिप्लब देब ने पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए कहा कि कांग्रेस वोट लेने के लिए हर प्रकार के झूठ का सहारा ले रही, लेकिन हरियाणा में कांग्रेस और बाप-बेटे का झूठ चलने वाला नहीं।

आने वाले समय में कांग्रेस की गाड़ी पर सिर्फ बाप-बेटा ही दिखाई देगें : सीएम नायब सिंह सैनी


 कहा, प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने ओबीसी समाज को दिए उनके अधिकार, ओबीसी आयोग बनाकर दी संवैधानिक शक्तियां


-कांग्रेस सरकार फसल खराब होने पर दो व पांच रुपये का देती थी मुआवजे का चेक, हम करते हैं फसल खराबे की भरपूर भरपाई


नई दिल्ली 11 जुलाई-
हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री नायब सिंह सैनी ने कहा है कि कांग्रेस पार्टी डूबता हुआ जहाज है, उनके बड़े नेता पार्टी को छोड़कर जा रहे है। आने वाले समय में कांग्रेस की गाड़ी पर सिर्फ बाप-बेटा ही दिखाई देगें।
 
मुख्यमंत्री श्री नायब सिंह सैनी ने वीरवार को नई दिल्ली स्थित हरियाणा भवन में पत्रकारवार्ता में कहा कि कांग्रेस सरकार के समय में कानून व्यवस्था पूरी तरह से खराब हो चुकी थी। गोहाना कांड हो या मिर्चपुर, पूरा प्रदेश गुंडागर्दी व बाहुबलियों का अड्डा बन चुका था। उन्होंने कहा कि वर्तमान में सरकार कानून हाथ में लेने वालों से सख्ती से निपट रही है।

श्री सैनी ने कहा कि कांग्रेस के शासनकाल में गरीब व्यक्ति न्याय से दूर था और उनका जमकर शोषण किया जाता था। उन्होंने कहा कि 10 साल के शासनकाल में कांग्रेस सरकार ने हरियाणा को सिर्फ बर्बाद करने का कार्य किया है। पिछले 10 वर्षो में भाजपा सरकार द्वारा किए गये कार्यो का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में देश व प्रदेश ने प्रगति के पथ पर आगे बढ़ने का कार्य किया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि अब हम साढे़ तीन घण्टे में दिल्ली से चण्डीगढ़ पहुंच जाते है। चण्डीगढ़ से नारनौल जाने में जहां 10 घण्टे लगते थे, वहीं अब मात्र ढ़ाई से तीन घण्टे में पहुंच जाते है।

-हमने बैगर खर्ची-पर्ची के दी एक लाख 32 हजार नौकरियां
  मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस के समय में नौकरी अटैची में वजन देखकर मिलती थी, वहीं भाजपा सरकार ने एक लाख 32 हजार नौकरी बगैर खर्ची-पर्ची के दी है। आज गरीब का बेटा भी सरकारी नौकरी लगा है। पूर्व मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा पर कटाक्ष करते हुए उन्होंने कहा कि पहले जहां किसानों को फसल खराब होने पर दो व पांच रूपये का चेक मिलता था वहीं अब उनकी फसल के खराबे की पूरी भरपाई हो रही है। किसानों के हित में किए गए कार्यो का जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि गेंहू व धान के साथ ही 14 अन्य फसलें भी एमएसपी पर खरीदी जा रही है। उन्होंने कहा कि जब केन्द्र में कांग्रेस की सरकार थी तो उन्होंने स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट को भी रद्दी की टोकरी में डाल दिया गया है।

-एक लाख छतों पर लगाएं जाएगें सोलर पैनल
  प्रधानमंत्री सूर्य किरण योजना का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि आज एक लाख 10 हजार रुपये कीमत का सोलर पैनल लोगों को मुफ्त दिया जा रहा है और हरियाणा में सरकार ने टारगेट लिया है कि एक लाख छतों पर सोलर पैनल लगाएं जाएंगें ताकि गरीब लोगों को मुफ्त बिजली मिल सके।

16 जुलाई को नारनौल में होने वाले ओबीसी वर्ग के सम्मेलन को लेकर एक सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि केन्द्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह इस कार्यक्रम में शिरकत करेंगें। उन्होंने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी का धन्यवाद करते हुए कहा कि उनके नेतृत्व में ओबीसी समाज को उनके अधिकार दिए गए। ओबीसी आयोग बनाया गया और उसे संवैधानिक शक्ति दी गई है। इसी की बदौलत आज ओबीसी समाज के बच्चों को चाहे नवोदय विद्यालय हो या फिर एमडी के दाखिले हर जगह उन्हें लाभ मिल रहा है। हरियाणा में क्रीमीलेयर की व्यवस्था 6 से 8 लाख रुपये की है। उन्होंने कहा कि सरकारी नौकरियों में ओबीसी समाज का बैकलॉग भी पूरा किया जाएगा और नौकरियों में प्रमोशन देने का काम भी करेंगें।

इस अवसर पर भाजपा प्रदेशाध्यक्ष मोहन लाल बड़ौली, मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार राजीव जेटली, सोनीपत नगर निगम के मेयर निखिल मदान, सोनीपत भाजपा जिलाध्यक्ष जसवीर दोदवा उपस्थित रहें।

कांग्रेस के पास बताने को कुछ नहीं, हमारे पास अनगिनत उपलब्धियां: सीएम नायब सिंह सैनी


 सोनीपत नगर निगम के मेयर निखिल मदान ने कांग्रेस के हाथ को छोड़कर थामा भाजपा का दामन


प्रदेश में तीसरी बार बनेगी भाजपा की सरकार:मनोहर लाल

150 से अधिक स्थानीय गणमान्य लोगों ने भी भाजपा की ली सदस्यता
 
नई दिल्ली -
भारतीय जनता पार्टी की रणनीति ने वीरवार को प्रदेश की राजनीति में कांग्रेस को एक बड़ा झटका दिया जब सोनीपत नगर निगम के मेयर निखिल मदान ने अपने समर्थकों के साथ हरियाणा के मुख्यमंत्री नायब सिंह सैनी, केन्द्रीय शहरी आवास एवं ऊर्जा मंत्री मनोहर लाल, हरियाणा के नवनियुक्त प्रदेशाध्यक्ष मोहन लाल बडौली की मौजूदगी में भाजपा की सदस्यता ग्रहण कर ली। इस अवसर पर मुख्यमंत्री के पब्लिसिटी एडवाइजर तरुण भंडारी, सोनीपत के भाजपा जिलाध्यक्ष जसवीर दोदवा, कई नगर पार्षद, सरपंच व अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।
 
 हरियाणा के मुख्यमंत्री नायब सिंह सैनी ने कहा कि डबल इंजन की सरकार का कार्यकाल बेहतरीन कार्यों और उपलब्धियों से भरा सफर है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कुशल नेतृत्व में केन्द्र सरकार की तरह ही प्रदेश में भाजपा तीसरी बार अपनी सरकार बनाकर इतिहास रचेगी।
उन्होंने कहा कि कांग्रेस के पास बताने के लिए कुछ नहीं है और अब कांग्रेस झूठ का सहारा ले रही है। कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए मुख्यमंत्री श्री नायब सिंह सैनी ने कहा कि कांग्रेस का काम सिर्फ झूठ परोसना है। कांग्रेस की स्थिति सभी विधानसभा क्षेत्रों में बेहद कमजोर हुई है। बताने के लिए कांग्रेस के पास कुछ भी नहीं है, इसलिए कांग्रेस के लोग झूठ का सहारा लेते है, लेकिन उनका झूठ चलने वाला नहीं हैं। कांग्रेस के बड़े नेता भी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व केन्द्रीय मंत्री मनोहर लाल के विचारों से जुड़कर भाजपा में शामिल हो रहे है और हम सब मिलकर प्रदेश में तीसरी बार भाजपा की सरकार बनाने का काम करेंगें।

निखिल मदान के शामिल होने पर पार्टी को मिलेगा लाभ
  मुख्यमंत्री नायब सिंह सैनी ने कहा कि सोनीपत के मेयर निखिल मदान, क्षेत्र के कई पाषर्द, सरपंच व अन्य गणमान्य लोगों ने बीजेपी की सदस्यता ग्रहण की है, उनका पार्टी में स्वागत है। उन्होंने कहा कि मदान एवं अन्य नेता भारतीय जनता पार्टी की नीतियों और विचारों को लेकर शामिल हुए हैं। सोनीपत क्षेत्र से पार्टी में शामिल हुए लोगों ने बीजेपी की विचारधारा व नीतियों के साथ जुड़ने का जो संकल्प लिया है वहीं संकल्प प्रदेश में तीसरी बार भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनाने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।

नंबर डायल कर भी बन सकते हैं भाजपा के सदस्य
  मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम में कहा कि कोई भी व्यक्ति भारतीय जनता पार्टी की विचारधारा से प्रभावित होकर पार्टी से जुड़ सकता है। भारतीय जनता पार्टी से जुड़ने के लिए मोबाईल नंबर 7820078200 पर मिस्ड कॉल करने के बाद लिंक उपलब्ध होगा और इसमें जानकारी भरकर भाजपा की सदस्यता ली जा सकती है।  

तीसरी बार भी बनेगी भाजपा सरकार: मनोहर लाल
केन्द्रीय शहरी आवास एवं ऊर्जा मंत्री मनोहर लाल ने कहा कि जब से निखिल से बातचीत हुई है तब से चर्चा करते रहे कि भाजपा में कुछ तो विशेष है, जो उन्हें पार्टी की ओर खींच रहा है।  मनोहर लाल ने कहा कि आज निखिल पार्टी में शामिल हो गए हैं। उन्होंने कहा कि निखिल मदान की ज्वाईनिंग इतनी शुभ है कि दो दिन पहले ही राई के विधायक मोहन लाल बड़ौली प्रदेशाध्यक्ष बने हैं, उन्हें भी बधाई देते हैं, जो प्रदेशाध्यक्ष बनने के बाद पहली बार मंच पर आए हैं। केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि निखिल के साथ 150 से अधिक स्थानीय नेता, जिनमें पार्षद व दूसरे दायित्व पर रहे गणमान्य लोग पार्टी की सदस्यता ले रहे है। उन्होंने कहा कि भाजपा पार्टी में सबका मान-सम्मान होता है उसी तरह नए शामिल हुए सदस्यों का भी मान-सम्मान होगा। केन्द्रीय मंत्री मनोहर लाल ने कहा कि तीन माह बाद एक और पड़ाव आने वाला है जब प्रदेश में नायब सिंह सैनी के नेतृत्व में तीसरी बार भाजपा की सरकार बनेगी।

स्पष्ट बहुमत के साथ बनाएंगे सरकार: मोहन लाल बड़ौली
  भारतीय जनता पार्टी के नवनियुक्त प्रदेशाध्यक्ष मोहन लाल बड़ौली ने कहा कि मेयर निखिल मदान व उनके समर्थक भारतीय जनता पार्टी की विचारधारा से प्रभावित होकर भाजपा के बड़े परिवार में शामिल हुए हैं। उन्होंने कहा कि जिस भाव को लेकर उन्होंने भाजपा ज्वाईन की है उससे सोनीपत जिला व पूरे हरियाणा प्रदेश में आने वाले विधानसभा चुनाव में काफिला इसी प्रकार से बढे़गा और स्पष्ट बहुमत की भाजपा सरकार नायब सिंह सैनी के नेतृत्व में बनाएंगे। भारतीय जनता पार्टी का कार्यकर्ता इसी ताकत और उत्साह के साथ जनता जनार्दन की सेवा करते हुए आशीर्वाद लेगा।

शीर्ष नेतृत्व ने दिलाई सदस्यता, मेरे लिए गौरव का क्षण:निखिल मदान
सोनीपत के मेयर निखिल मदान ने भाजपा की सदस्यता ज्वाइन करते हुए कहा कि मेरे लिए बड़ा ही गौरव का क्षण है कि भाजपा के शीर्ष नेतृत्व ने मुझे सदस्यता दिलाई है। आज वह भाजपा परिवार का हिस्सा बन गये हैं। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी जो भी जिम्मेवारी लगाएगी, उसे 100 प्रतिशत पूरा किया जाएगा। उन्होंने कहा कि वह भाजपा की नीतियों से प्रभावित होकर सदस्यता ग्रहण कर रहे हैं। देश में जिस प्रकार प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में तीसरी बार सरकार बनी है उसी तरह प्रदेश में मुख्यमंत्री नायब सिंह सैनी के नेतृत्व में प्रदेश में तीसरी बार बीजेपी की सरकार बनाएंगे।

ਰਾਜੌਰੀ ਗਾਰਡਨ ਗੁਰਦੁਆਰਾ ਸਾਹਿਬ ਵਿੱਖੇ ਗੁਰਬਾਣੀ ਰਾਹੀਂ ਬਿਮਾਰੀਆਂ ਦੇ ਇਲਾਜ ਸੰਬੰਧੀ ਕੈਂਪ ਲਗਾਇਆ ਗਿਆ

 


ਨਵੀਂ ਦਿੱਲੀ, : ਪੱਛਮੀ ਦਿੱਲੀ ਦੇ ਗੁਰਦੁਆਰਾ ਸ਼੍ਰੀ ਗੁਰੂ ਸਿੰਘ ਸਭਾ ਰਾਜੌਰੀ ਗਾਰਡਨ ਵਿਖੇ ਗੁਰਬਾਣੀ ਰਾਹੀਂ ਬਿਮਾਰੀਆਂ ਦੇ ਇਲਾਜ ਸੰਬੰਧੀ 3 ਰੋਜ਼ਾ ਕੈਂਪ ਲਗਾਇਆ ਗਿਆ, ਜਿਸ ਵਿੱਚ ਗੁਰਬਾਣੀ ਦਾ ਜਾਪ, ਪਾਠ ਅਤੇ ਅਰਦਾਸ ਕੀਤੀ ਗਈ। ਇਸ ਕੈਂਪ ਵਿੱਚ ਜਿੱਥੇ ਦੂਰ-ਦੁਰਾਡੇ ਤੋਂ ਸੰਗਤਾਂ ਹਿੱਸਾ ਲੈਣ ਲਈ ਪੁੱਜੀਆਂ, ਉੱਥੇ ਹੀ ਦਿੱਲੀ ਸਿੱਖ ਗੁਰਦੁਆਰਾ ਪ੍ਰਬੰਧਕ ਕਮੇਟੀ ਦੇ ਜਨਰਲ ਸਕੱਤਰ ਜਗਦੀਪ ਸਿੰਘ ਕਾਹਲੋ ਨੇ ਵਿਸ਼ੇਸ਼ ਤੌਰ ’ਤੇ ਪਹੁੰਚ ਕੇ ਕੈਂਪ ਵਿੱਚ ਸ਼ਮੂਲੀਅਤ ਕੀਤੀ। 

ਇਸ ਕੈਂਪ ਦਾ ਆਯੋਜਨ ਗੁਰਦੁਆਰਾ ਰਾਜੌਰੀ ਗਾਰਡਨ ਦੇ ਪ੍ਰਧਾਨ ਹਰਮਨਜੀਤ ਸਿੰਘ, ਜਨਰਲ ਸਕੱਤਰ ਮਨਜੀਤ ਸਿੰਘ ਖੰਨਾ ਅਤੇ ਗੁਰਦੁਆਰਾ ਰਕਾਬ ਗੰਜ ਸਾਹਿਬ ਦੇ ਕੋ-ਚੇਅਰਮੈਨ ਸਤਨਾਮ ਸਿੰਘ ਬਜਾਜ ਨੇ ਕੀਤਾ। ਇਸ ਕੈਂਪ ਦਾ ਹਿੱਸਾ ਬਣੇ ਲੋਕਾਂ ਨੇ ਦੱਸਿਆ ਕਿ ਇੱਥੇ ਆਉਣ ਨਾਲ ਉਨ੍ਹਾਂ ਦੀਆਂ ਗੰਭੀਰ ਬਿਮਾਰੀਆਂ ਵੀ ਠੀਕ ਹੋ ਗਈਆਂ ਹਨ।
  ਸ: ਜਗਦੀਪ ਸਿੰਘ ਕਾਹਲੋਂ ਨੇ ਕਿਹਾ ਕਿ ਗੁਰਬਾਣੀ ਪੜ੍ਹਨ ਅਤੇ ਸੁਣਨ ਨਾਲ ਹਰ ਤਰ੍ਹਾਂ ਦੇ ਰੋਗਾਂ ਦਾ ਨਾਸ਼ ਹੋ ਜਾਂਦਾ ਹੈ ਪਰ ਜਦੋਂ ਗੁਰਬਾਣੀ ਨੂੰ ਸਾਰੀ ਸੰਗਤ ਨਾਲ ਬੈਠ ਕੇ ਪੜ੍ਹਿਆ ਜਾਂਦਾ ਹੈ ਤਾਂ ਇਸ ਦਾ ਪ੍ਰਭਾਵ ਵਧੇਰੇ ਹੁੰਦਾ ਹੈ। ਉਨ੍ਹਾਂ ਗੁਰਦੁਆਰਾ ਰਾਜੌਰੀ ਗਾਰਡਨ ਦੇ ਪ੍ਰਧਾਨ ਹਰਮਨਜੀਤ ਸਿੰਘ, ਸਤਨਾਮ ਸਿੰਘ ਬਜਾਜ ਸਮੇਤ ਸਮੁੱਚੀ ਕਮੇਟੀ ਦੇ ਉਪਰਾਲੇ ਦੀ ਸ਼ਲਾਘਾ ਕੀਤੀ, ਜਿਨ੍ਹਾਂ ਨੇ ਰੋਗ ਰੋਕੂ ਕੈਂਪ ਲਗਾਇਆ, ਜਿਸ ਵਿਚ ਸ: ਹਰਦਿਆਲ ਸਿੰਘ ਸੇਵਾਮੁਕਤ ਆਈ.ਏ.ਐਸ., ਗੁਰਮੀਤ ਸਿੰਘ ਲੁਧਿਆਣਾ ਅਤੇ ਬੀਬੀ ਰੁਪਿੰਦਰ ਕੌਰ ਅਤੇ ਉਨ੍ਹਾਂ ਦੀ ਟੀਮ ਵੱਲੋਂ ਸੰਗਤਾਂ ਨੂੰ ਗੁਰਬਾਣੀ ਸ਼ਬਦ ਦਾ ਗਿਆਨ ਦਿੱਤਾ ਗਿਆ।
-----------
राजौरी गुरुद्वारा में गुरबाणी से बीमारियां दूर करने हेतु कैंप

नई दिल्ली 10 जुलाई: पश्चिमी दिल्ली के गुरुद्वारा श्री गुरु सिंह सभा राजौरी गार्डन में 3 दिवसीय रोग निवारण कैंप लगाया गया जिसमें संगती रुप में गुरबाणी, पाठ, अरदास की गई। जहां दिल्ली दूर दराज से भीे संगत इस कैंप में भाग लेने के लिए पहुंची वहीं दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबन्धक कमेटी महासचिव जगदीप सिंह काहलो ने विषेश तौर पर पहुंचकर कैंप में भाग लिया। कैंप का आयोजन गुरुद्वारा राजौरी गार्डन के अध्यक्ष हरमनजीत सिंह, महासचिव मनजीत सिंह खन्ना और गुरुद्वारा रकाब गंज साहिब के को चेयरमैन सतनाम सिंह बजाज के द्वारा करवाया गया था। इस कैंप का हिस्सा बने लोगों ने बताया कि यहां आकर उनकी गंभीर बीमारियां भी ठीक हुई हैं। 
 सः जगदीप सिंह काहलो ने कहा कि गुरबाणी पढ़ने, सुनने से सभी तरह के दुखों का नाश होता है पर जब उसे सभी संगत के साथ बैठकर पढ़ा जाए तो उसका और अधिक प्रभाव पड़ता है। उन्होंने गुरुद्वारा राजौरी गार्डन के अध्यक्ष हरमनजीत सिंह, सतनाम सिंह बजाज सहित समुची कमेटी के प्रयास की सराहना की जिनके द्वारा रोग निवारण कैंप का आयोजन किया गया जिसमें सः हरदयाल सिंह रिडायर्ड आईएएस, गुरमीत सिंह लुधियाना और बीबी रुपिन्दर कौर और उनकी टीम के द्वारा संगत को गुरबाणी के शब्दों का ज्ञान दिया। 

सनातन ध्वज वाहिका सपना गोयल की अगुवाई में चिनहट के शांति विहार कॉलोनी स्थित स्वप्नकुंज परिसर में किया गया वृहद पौधरोपण


 लखनऊ 10 जुलाई 2024 बुधवार। “जीवन संरक्षण के नाम महा पौधरोपण अभियान” के अंतर्गत ईश्वरीय स्वप्नाशीष सेवा समिति की ओर से सनातन ध्वज वाहिका सपना गोयल की अगुवाई में बुधवार 10 जुलाई को चिनहट के शांति विहार कॉलोनी स्थित स्वप्नकुंज परिसर में वृहद पौधरोपण किया गया। इस अवसर पर मनोकामिनी, चम्पा, जरबेरा, मोरपंखी सहित तरह-तरह के पाम के पौधे रोपित किये गए। अपने संदेश में सपना गोयल ने कहा कि सनातन धर्म में हमेशा प्रकृति संरक्षण को महत्व दिया है। इसके साथ ही विभिन्न पूजन अनुष्ठानों में तुलसी, आम, बरगद, बेल, केला, आंवला जैसे विभिन्न जन कल्याणकारी वृक्ष और पौधों को शामिल किया जाता है। वास्तव में पेड़ पौधों को हम नहीं बल्कि पेड़ पौधे हमे संरक्षण प्रदान करते हैं। इसीलिए लखनऊ ही नहीं प्रदेश भर में यह अभियान संचालित किया जा रहा है। अकेले लखनऊ, चिनहट, मोहनलालगंज में दो हजार पौधरोपण का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इसके साथ ही 51 शक्तिपीठ की मातृशक्तियों द्वारा इस वृहद अभियान को राष्ट्रीय स्तर पर भी संचालित किया जाएगा।

सत्य सनातन नारी शक्ति-लक्ष्मणपुरी की सनातन ध्वज वाहिका सपना गोयल ने कहा कि पौधरोपण के साथ-साथ उनके संरक्षण की जिम्मेदारी भी लोगों को उठानी होगी। प्राणवायु, भोजन, लकड़ी ही नहीं वृक्ष प्राकृतिक आपदाओं पर भी अंकुश लगाते हैं। जल स्तर बनाए रखते हैं और जीवनदायिनी जल के लिए वर्षा के भी आधार बनते हैं। ऐसे में उन्होंने आवाहन किया कि हर हाल में जीवन संरक्षण के लिए पौधरोपण किया जाए। सनातन ध्वज वाहिका सपना गोयल ने बताया कि भारत की पावन पुण्य भूमि संतों और देवों की भूमि है। उन संतों और देवों ने ही भारतीय संस्कृति को विश्व में अद्वितीय संस्कृति के रूप में प्रतिष्ठित किया है। उस मार्ग पर चल कर ही विश्व के मानवों का कल्याण संभव है। वास्तव में सनातन का मार्ग, धर्म विशेष तक सीमित न होकर विश्व उत्थान का मार्ग है, जो जीव के परस्पर प्रेम और समर्पण पर आधारित है। उन्होंने हिन्दुओं का आवाहन किया कि हिंदू अपने अपने स्थानीय मंदिरों पर हर मंगलवार को एकत्र होकर सुंदरकांड का पाठ अवश्य करें। सपना गोयल द्वारा बिना किसी सरकारी या निजी सहयोग के, बीते 10 मार्च को महिला दिवस के उपलक्ष्य में पांच हजार से अधिक मातृशक्तियों द्वारा लखनऊ के झूलेलाल घाट पर सामूहिक सुंदरकांड का भव्य अनुष्ठान सम्पन्न करवाया गया था। सामूहिक सुंदरकांड का अभियान राष्ट्रीय स्तर पर वृहद रूप में निरंतर संचालित किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश के जिले पीलीभीत, बरेली, मुरादाबाद, नोएडा, गाजियाबाद, आगरा, लखीमपुर, रायबरेली, बनारस, सुल्तानपुर, बाराबंकी, अयोध्या नगरी, बदायूं, बिजनौर, अमरोहा, सीतापुर, कानपुर, जौनपुर सहित प्रदेश के पचास गांव और देश में मध्य प्रदेश, उत्तराखंड, दिल्ली, उड़ीसा, कर्नाटक, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, बिहार, तमिलनाडु तक में यह अभियान पहुंच चुका है। विदेशों में मॉरिशस, अमेरिका, साउथ अफ्रीका और संयुक्त अरब अमीरात तक में यह अभियान सक्रिय हैं। सनातन ध्वज वाहिका सपना गोयल के अनुसार भगीरथ ने अपने पूर्वज राजा सगर के साठ हजार पुत्रों को जिस तरह मुक्ति दिलवायी थी उसी तरह उनका भी संकल्प, मानव जाति का कल्याण करना है। इसकी प्रेरणा उन्हें साल 2022 में बाबा अमरनाथ से मिली थी। सनातन ध्वज वाहिका सपना गोयल ने बताया कि उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ को प्रभु श्रीराम के अनुज लक्ष्मण के नाम पर बसी लक्ष्मणपुरी, के मूल नाम को लोकप्रिय करवाने और सनातन धर्म के पुनरुत्थान के लिये वह बीते कई वर्षों से मंदिर निर्माण और मंदिरों के जीर्णोद्धार का कार्य करवा रही हैं। जनजागृति के लिए समय-समय पर वह जगह-जगह पर भंडारे भी करवाती हैं। इसके साथ ही उनके द्वारा तीर्थों पर भी सेवाएं और भंडारे आयोजित किये जा रहे हैं। सनातन ध्वज वाहिका सपना गोयल के प्रयासों से धर्म जागरण के साथ-साथ नारी सशक्तिकरण को भी बल मिल रहा है।


30-30 वर्ग गज के प्लाट देकर सरकार ने गरीबों से किया मजाक



बीपीएल परिवार 13 हजार रुपये प्रतिमाह की किस्त कहां से जमा करवाएगा


-कांग्रेस शासन में गरीबों को दिए गए थे 100-100 गज के प्लाट मुफ्त

 चंडीगढ़,  

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की महासचिव, पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं सिरसा लोकसभा क्षेत्र से सांसद कुमारी सैलजा ने कहा कि प्रदेश की भाजपा सरकार गरीबों, किसानों, युवाओं और कर्मचारियों के साथ मजाक करने में लगी हुई है। गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले परिवारों को जहां 100-100 वर्ग गज के प्लाट नि:शुल्क दिए जाने थे अब उन्हें एक एक लाख रुपये लेकर 30-30 वर्ग गज के प्लाट दिए जा रहे हैं जो किस्तों में देने होंगे। मकान बनाने के लिए ब्याज पर 6 लाख तक का ऋण उपलब्ध करवाने की बात कही गई है। ऐसे में गरीब परिवार किस्त के रूप में कम से कम 13000 रुपये कैसे जमा करवाएगा। सरकार ने प्लॉट के नाम पर उलझाकर रख दिया है। जब उसके पास पैसों की व्यवस्था नहीं होगी तो उसे प्लाट छोड़ना होगा। 

मीडिया को जारी बयान में सांसद कुमारी सैलजा ने कहा है कि तत्कालीन मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने 11 शहरों में गरीबों को जिनकी आय 1.80 लाख से कम है, उन्हें हाउसिंग फार ऑल योजना के तहत 30 वर्ग गज के प्लॉट दिए जाने की घोषणा की थी। इस योजना के तहत प्रोविजनल आवंटन पत्र प्राप्त होने के 30 दिनों के भीतर 10 हजार रुपये और शेष 80 हजार रुपये छह किस्तों में जमा करवाने होंगे। शर्त के अनुसार प्लाट धारक को आवंटन के एक साल के भीतर आवासीय इकाई का निर्माण करना होगा और 24 माह के भीतर निर्माण पूर्ण करना होगा। प्लॉट का उपयोग केवल आवास निर्माण के लिए करना होगा, आवंटन की तिथि से 10 साल तक न तो प्लॉट को बेचा जा सकेगा और न ही पट्टे पर दिया जा सकेगा। उन्होंने कहा कि शर्तानुसार लाभार्थी बैंकों/वित्तीय संस्थाओं से घर निर्माण के लिए ब्याज पर 6 लाख रुपये तक के गृह ऋण की सुविधा दी जाएगी। उन्होंने कहा कि प्लॉट की किस्त और बैंक की किस्त के रूप में कम से कम लाभार्थी को 13000 रुपये प्रति माह देने होंगे जो एक बीपीएल परिवार के लिए असंभव है, जिस परिवार की आय ही 1.80 लाख रुपये से कम हो वह प्रति माह 13000 रुपये की किस्त के साथ साथ परिवार का भरण पोषण कैसे करेगा। सरकार की शर्तें पूरी न होने पर मजबूरन उसे प्लॉट सरेंडर करना होगा। उन्होंने कहा कि सरकार का गरीबों को 30-30 वर्ग गज का प्लाट एक प्रकार से गरीबों का मजाक उड़ाना ही है। उन्होंने कहा कि सरकार को अगर प्लॉट देने ही थे तो नि:शुल्क देते। सैलजा ने कहा कि कांग्रेस राज में गरीबों को 100-100 वर्ग गज के प्लाट नि:शुल्क उपलब्ध करवाए थे। भाजपा सरकार ने उस नीति पर न चलते हुए पैसा लेकर 30-30 वर्ग गज के प्लॉट देकर गरीबों के साथ मजाक किया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकार आने पर गरीबों को 100-100 वर्ग गज के प्लाट निशुल्क उपलब्ध करवाए जाएंगे।

इंटरनेशनल इंस्टीच्यूट फाॅर गुरमत स्टडीज़ व संगीत अकैडमी के विद्यार्थियों को पुरस्कार वितरण

 


नई दिल्ली: दिल्ली सिक्ख गुरूद्वारा प्रबंधक कमेटी (डीएसजीएमसी) के महासचिव स. जगदीप सिंह काहलों ने कहा है कि मौजूदा दौर में गुरबाणी से जुड़ पकड़ कर ही मानव जीवन को सफल किया जा सकता है। वह यहां इंटरनेशनल इंस्टीच्यूट फाॅर गुरमत स्टडीज़ व संगीत अकैडमी द्वारा डीएसजीएमसी के सहयोग से करवाये गये 34वें सेशन के विद्यार्थियों के लिए माता साहिब कौर आॅडिटोरियम, माता सुंदरी कालेज में पुरस्कार वितरण समारोह को संबोधन कर रहे थे।

 स. काहलों ने कहा कि दिल्ली सिक्ख गुरूद्वारा प्रबंधक कमेटी गुरू नानक देव जी द्वारा दर्शाये गये फलसफे के अनुसार अपने फर्ज निभा रही है। उन्होंने कहा कि गुरू साहिबान ने हमें श्री गुरू ग्रंथ साहिब जी से जोड़ा है और आज दिल्ली कमेटी यही प्रयास कर रही है कि अधिक से अधिक संख्या में बच्चों, नौजवानों व लोगोें को गुरबाणी से जोड़ा जाये। उन्होंने कहा कि जब हम गुरबाणी का पाठ करेंगे तभी हम गुरसिक्खी जीवन जाच और इसके सिद्धांतों से जुड़ सकेंगें।
 उन्होंने कहा कि जहां श्री गुरू नानक देव जी ने समाज को मानवता की बराबरी का और किसी भी तरीके से समाजिक भेदभाव के खिलाफ पहरा देने का संदेश दिया है। इसी तरह श्री गुरू गोबिन्द सिंह जी ने हमें खालसा रूप दिया और हमें जात, पात से उपर उठ कर खालसा रूप धारण करके समाज में रहने का हुक्म दिया। श्री गुरू ग्रंथ साहिब जी ज्ञान का समुंदर हैं जिनसे गुरबाणी सीख के हम अपने जीवन को ऊँचा व साफ बना सकते हैं यही कार्य हमारे जीवन को सुधार सकता है। उन्होंने डीएसजीएमसी द्वारा सिक्खी के प्रचार-प्रसार के लिए किये जा रहे कार्यों पर भी विस्तार से वर्णन किया।
 इस अवसर पर डीएसजीएमसी से सचिव जसमेन सिंह नोनी, धर्म प्रचार कमेटी के चेयरमैन जसप्रीत सिंह करमसर, जतिन्दरपाल सिंह गोल्डी, भाई मनप्रीत सिंह, हैड ग्रंथी ज्ञानी सुखविन्दर सिंह, भाई संदीप सिंह, माता सुंदरी काॅलेज की प्रिंसीपल डाॅ. हरप्रीत कौर, इन्द्रजीत सिंह मोंटी, सर्वजीत सिंह विर्क, एम.पी.एस. चडडा अध्यक्ष शिरोमणी अकाली दल दिल्ली स्टेट, प्रिंसीपल सतबीर सिंह, भाई गुरदीप सिंह व कई गणमान्य उपस्थित थे। 

Delhi Congress to fight the case of uprooted families of Chilla Khader—Devender Yadav


 Delhi Pradesh Congress Committee president Shri Devender Yadav said that the Congress Government had framed a policy not to demolish dwelling units without providing alternate accommodation, but under the Kejriwal and Modi Governments, the welfare of the poor have become least of their concerns, which was evident from the recent demolition of nearly 200 houses at Yamuna Khader by the Delhi Development Authority without giving advance notice to drive hundreds of people out of their houses, though they possessed all relevant documents to prove their identity, as they have been living and carryout farming activities at the Yamuna floodplanes for the past over 40 years. He said that when the spectre of demolitions was hanging on unauthorized colonies, the Congress-led UPA Government had framed a policy in 2007 which protected the dwelling units of over 40-45 lakh people, and the Congress Government gave them provisional certificates to protect them from demolition, but the BJP and AAP Governments seemed to have made a policy to uproot the poor from Delhi. He said that the Congress party will spare no effort to protect if the poor are uprooted without relocating them.

 

Addressing a press conference at the DPCC office, Rajiv Bhawan here today, former DPCC president Ch. Anil Choudhary said that the DDA, in violation of the court order, demolished nearly 200 houses at Chilla Khader to drive hundreds of poor people into the open without any alternative place to relocate them, though they possessed valid residential proofs. Members of affected families, Patpargaj District Congress Committee president Advocate Dinesh Kumar and Advocate Vipin Kumar were also present at the press conference.

 

Ch.Anil Kumar said that the DDA misrepresented in the court that the  poor people living in Chilla Khader who eke out a living through farming on the Yamuna floodplanes were doing commercial activity, and within two days after the court order, DDA came with bulldozers early morning to demolish the houses of the farmers, when children were preparing to go to schools, and the old were sleeping, without even providing tents nearby to relocate them, which was inhuman and against the direction of the court. He said that from Okla Barrage to Chilla Khader, nearly 1500 families carry out farming activities on the Yamuna floodplanes, and they possess all relevant documents to do farming, and it was only a means to earn their livelihood.

 

Ch/ Anil Kumar said that Delhi Congress will meet the Lt. Governor and other concerned authorities, and approach the higher court if need be, to get justice for these uprooted people, as they were also about to harvest their farm products which will now get submerged in waters as water has been released from the Hathni Kund barrage in Haryana.

Ch. Anil Kumar said that the Kejriwal Government has not made any scheme to provide houses under the Mukhya Mantri Awaz Yojana to those living on DDA, O-Zone etc. lands and even the Prime Minister has kept them out of the PM Uday scheme. He said that the Kejriwal Government changed the rehabilitation policy framed by the Congress Government to harm the poor people living on lands owned by various Government agencies. He said that the Congress Government, at a cost of over Rs 2000 crore, had constructed 45,000 flats under the Rajiv Rattan Awaz Yojna, but these flats have not yet been allotted to the slum dwellers for whom they  were constructed.

 

Manish Sisodia & Ms. Atishi Have Badly Damaged the School Education System of Delhi - Virendra Sachdeva


 Delhi Schools Lack Teachers Yet Kejriwal Government Has Diverted Over 5000 Teachers to Non Teaching Duties Badly Effecting Teaching in Schools - Virendra Sachdeva


Teachers Are Working in An Extremely Frustrating Circumstances As They Are Forced to Fail Students in Class IX & XI - Virendra Sachdeva

Kejriwal Government Misusing Schools To Politically Inflence First Time Voters - Virendra Sachdeva

New Delhi:
 Delhi BJP President Shri Virendra Sachdeva has said that the duo of Manish Sisodia & Ms. Atishi have badly damaged the school education system of Delhi, they have not recruited regular teachers nor guest teachers and have diverted teachers to non teaching duties thereby leading to one of the worst teacher student ratio in Delhi government schools.

Shri Sachdeva has said BJP never wants to do politics on education department working but Minister Ms. Atishi has today forced us to put in public domain as to how Kejriwal government has damaged the education system of Delhi.

Delhi today in 2024 has 995 normal schools as compared to 1015 in 2015 when Arvind Kejriwal government first came to power and these 10 years they have not hired any new regular or guest teachers.

The other 32 schools for specialized education totally lack facilities are some of them worst schools.

As per the Right to Education statistics Delhi government schools need around 62000 teachers while there are only around 43000 teachers alongwith around 13000 guest teachers. There is a a lack of around 6000 teachers in Delhi Government schools.

Delhi government schools lack teachers yet Kejriwal Government has diverted over 5000 teachers to non teaching duties thus badly effecting teaching in schools.

Shockingly school teachers are forced to do clerical duties, work as legal assistants and work as OSDs to senior officials.

Despite lack of 6000 teachers the Sisodia - Atishi duo has removed almost 5000 teachers from teaching duties.

205 teachers have been made School Mentors while 1027 have been made Scool Coordinators while another 1027 have been made Teacher Development Coordinator and they now don't perform any teaching duty.

70 teachers who have law qualification have been diverted to work on Education department's legal assistants while another 102 teachers are forced to work as OSDs to the Deputy & Assistant Directors of Education in the education department.

Posts of around 5200 clerks & accounts staff in Delhi government schools are vacant. While on half of them contract employees have been kept at a salary of Rs. 25000 per month while against the other half some 1500 teachers in salary brackets of Rs. 70000 per month are forced to work as clerks & accounts officer.

Teachers teaching in class IX & XI are working in the most frustrating atmosphere as for last 8 years they are forced to fail almost half the students as Sisodia - Ms. Atishi duo want only meritorious students to go up to class X & XII so that they give best results.

Similarly the forced use of first & eighth periods in daily time table for happiness & co circular activities means that students loose almost 25% of teaching time every day.

Apart from this Kejriwal government is misusing education funds on employing its party cadre. Some 1027 Estate Managers and around 1000 contract clerks have been kept from AAP cadre without following proper rules & regulations at a monthly salary.

The splashing of public money to garner support for AAP doesn't stop here, Delhi government is running a Business Blaster Scheme under which all class XI & XII students are given Rs. 2000 per annum to develop business ideas. One can well imagine that no business idea can be developed in Rs. 4000.

The actual purpose of the Business Blaster Scheme is to dole out cash money to school students most of whom grow up as 18 years youth by the time they complete class XII and become first time voter. There is all the possibility of their youthful mind getting influenced by the Rs. 4000 they got.

Shri Sachdeva has said its regrettable that those who claim to have developed a world class education model have actually lowered the standard of teaching in government schools.

The Padayatra Will Be Held in Urban Areas of the State


 The Main Objective of the Padayatra is to Gain Advantage for Congress in Urban Assembly Constituencies:- Kumari Selja


:-The Messages of Rahul and Kharge Along with the Misgovernance of BJP's 10 Years Will Be Conveyed:- Kumari Selja

:-The Every Third Family in Urban Areas is Trapped in the Vortex of Property ID:- Kumari Selja

Chandigarh/7th, July.

The General Secretary of the All India Congress Committee, former Union Minister, and Lok Sabha MP from Sirsa, Kumari Selja, has decided to conduct a Padayatra in the urban areas of the state. The yatra will commence in the last week of July. Through this yatra, the message of Congress's National President Mallikarjun Kharge and Leader of the Opposition Rahul Gandhi will be communicated to every urban voter. Additionally, people will be informed in detail about the misrule of BJP's 10 years. The main objective of the Padayatra is to strengthen Congress in urban assembly areas compared to BJP and gain a decisive advantage. A study of the Lok Sabha election results shows that BJP gained an edge in 44 assembly areas of the state, most of which are urban. With the assembly elections approaching, Congress needs to focus on urban assembly areas under a new strategy. Therefore, Kumari Selja has decided to conduct a Padayatra in urban areas to strengthen the party. Confirming the Padayatra, Kumari Selja said that planning is underway to start the Padayatra in the last week of July. The route of the yatra will soon be announced to party workers through the media along with the date announcement. Some important responsibilities regarding this Padayatra will also be assigned to the workers. For this, a workers' meeting will be called.

Kumari Selja said that Rahul Gandhi has undertaken the biggest yatras in the history of the country. He traveled from Kanyakumari to Kashmir and from Manipur to Maharashtra to fight for the common people. He talked to every section of the society, understood their pain, and communicated the Congress message to them. Inspired by him, a Congress message yatra was conducted in the state in January-February, the result of which was clearly seen in the Lok Sabha elections. The people reduced BJP to half. Kumari Selja said that the party is not as weak in urban areas as BJP tries to show. Congress still has a strong workforce in urban areas. They need to be united and infused with new energy. Rahul-Kharge's message needs to be conveyed to them. Once the morale of urban workers is boosted, nothing can stop Congress from achieving a three-fourths majority in the state's power. Therefore, the main focus of this Padayatra will be urban assembly areas. Kumari Selja said that there are heaps of problems in urban areas. Every third family is trapped in the vortex of Property ID. Every second family is entangled in the PPP mess. Shopkeepers and traders are terrified of extortion incidents. GST has ruined the business of small shopkeepers. There isn't a single city where the sewerage system and drinking water arrangements are proper. Through the Padayatra, people will be made aware of the anti-people decisions taken during BJP's 10-year tenure.

Saturday, July 6, 2024

एंटी टेरोरिस्ट फ्रंट इंडिया प्रमुख वीरेश शांडिल्य ने जलाया खालिस्तानी अमृतपाल सिंह का पुतला और खालिस्तानी झंडा

 


अमृतपाल की शपथ के विरोध में किया शांडिल्य के नेतृत्व में ATFI सदस्यों ने ज़ोरदार प्रदर्शन


एंटी टेरोरिस्ट फ्रंट इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष वीरेश शांडिल्य ने खालिस्तानी आतकी अमृतपाल सिंह की शपथ को काला दिन घोषित किया, सैकडो सदस्यों ने खालिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाए

वीरेश शांडिल्य ने लुधियाना में हिंदू नेता पर निहंगों द्वारा किए हमले को लेकर भी जताया रोष, हमलावरों को देखते ही गोली मारने की माँग

चंडीगढ़ : एंटी टेरोरिस्ट फ्रंट इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष वीरेश शांडिल्य के नेतृत्व में फ्रंट के सैकड़ों सदस्यों ने खालिस्तानी आतंकवादी और आईएसआई के एजेंट  अमृतपाल सिंह का दिल्ली हाईवे कालका चौक पर पुतला जलाया और खालिस्तानी अमृतपाल सिंह मुर्दाबाद  के नारे लगाए और इंकलाब जिंदाबाद भारत मां जिंदाबाद के भी नारे लगाए और एंटी टेरोरिस्ट फ्रंट इंडिया और विश्व हिंदू तख्त के सैंकड़ों सदस्यों ने खालिस्तान मुर्दाबाद , अमृत पाल सिंह मुर्दाबाद , पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे  लगाकर  खुले आम खलिस्तानियो को ललकारा। फ्रंट के सदस्यों ने हाथ में भारतीय तिरंगे और शहीदों के चित्र उठा रखे थे वही सभी सदस्यों ने अमृत पाल सिंह की फोटो के चित्र उठाए हुए थे जिस पर अमृतपाल  को आतंकवादी लिखा हुआ था सबसे बड़ी बात यह थी एंटी टेरोरिस्ट फ्रंट के सदस्यों ने श्रीमती इंदिरा गांधी, राजीव गांधी, बेयन्त सिंह, केपीएस  गिल,  जरनल अरुण वैध के चित्र उठा रखे थे। वही वीरेश शांडिल्य ने कहा की आज देश की सबसे बड़ी पंचायत लोकसभा में एक आतंकवादी अमृत पाल सिंह को संसद सदस्य के  रूप में शपथ दिलाई जो आज फ्रंट ने इसे काला दिवस घोषित किया।  

एंटी टेरोरिस्ट फ्रंट इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष वीरेश शांडिल्य ने खालिस्तानी अमृतपाल सिंह को देश के संविधान और तिरंगे का सबसे बड़ा दुश्मन बताया और कहा की जिस खालिस्तानी अमृतपाल ने पंजाब के थाने पर हमला किया और पंजाब में आतंकवादी जरनैल सिंह भिंडरवाला की सोच  की मुहिम चलाई और फिर पंजाब में आतंकवाद लाने की साजिश रची शांडिल्य ने कहा की भिंडरावाला ने पंजाब पुलिस सहित सेना के 90 से अधिक जवानों को शहीद किया दरबार साहिब की पवित्रता भंग की उस सोच पर पहरा देने वाले अमृतपाल को संसद की शपथ दिलाकर केंद्र सरकार ने 140 करोड़ लोगो की भावनाओं से खिलवाड़ किया और शहीदों की शहादत का मजाक उड़ाया जिनके कारण आजादी,सविधान तिरंगा मिला। उन्होंने कहा की अब संसद में आतंकवादी बैठेंगे उन्होंने कहा की  सबसे बड़ी दोषी पंजाब सरकार है जिस सरकार ने अमृतपाल जैसे आतंकवादी को 5 दिन की पैरोल देकर पंजाब की शांति को भंग करने की नीव और खालिस्तानी मुहिम को बल दिया जो शहीद मुख्यमंत्री बेअंत सिंह की कुर्बानी का मजाक है और भगवंत मान सरकार ने आतंकवादी को पैरोल देकर कट्टर पंथियों को हवा दी है। एंटी टेरोरिस्ट फ्रंट इंडिया प्रमुख वीरेश शांडिल्य ने कहा की  मोदी और अमित शाह की जोड़ी दोनो खालिस्तानी सांसद अमृतपाल सिंह और सरबजीत सिंह खालसा की सदस्यता को रद्द करने को लेकर लोकसभा में प्रस्ताव लेकर आएं क्योंकि सविधान पर हमला करने वालो की जगह जेल में है और अमृतपाल सिंह की बाकी बची 4 दिन की पैरोल को राष्ट्र हित और सविधान का सम्मान करते पंजाब सरकार रद्द करे। वीरेश शांडिल्य ने घोषणा की पूरे देश में अमृतपाल और खालसा के पुतले जलाए जाएंगे । इस मौके पर  कुलवंत सिंह मानकपुर, मनीष पाशी, दिनेश गौड़, अजय अज्जू, हर्ष शर्मा,सुरेंद्र पाल केके, मोहन धीमान, मुकुल गोयल, हैप्पी धीमान, कमल, राजन, करण बाल्मिकी, रवि, जोगेंद्र अवि, मोहित धीमान, धीमान,विपिन बादल,गगन गुलाटी, हरीश अरोड़ा, जतिन, राजन अरोड़ा, आकाश गुप्ता, संजीव सेठ, राजन ढींगरा, मनु, साई राम समेत कई फ्रंट सदस्य मौजूद थे ।

To strengthen the party at the grass-root level, all 14 District Congress Committees hold ’meetings of office-bearers—Such meetings will be held every month.

 


NEW DELHI, —To strengthen  the Congress party at the grass-root level, motivate and  activate the workers, all the 14 District Congress Committees, at the direction of Delhi Pradesh Congress Committee president Shri Devender Yadav, held meetings in their respective areas, and involved local residents also in the gathering, so that they become part and parcel of all the activities of the Congress party. The meetings were attended by the DCC office-bearers, ex-MPs, ex-MLAs, Municipal Councillors, ex-Councillors, senior leaders, all Block presidents and office-bearers, office-bearers of Mahila Congress, Youth Congress, NSUI, Sewa Dal, Cells and Departments, and newly-appointed District observers.

 

The District presidents who organised the meetings were Ex MLA Surender Kumar, Madan Khorwal, Virender Kasana, Gurcharan Singh, Adv. Dinesh Kumar, Rajesh Chauhan, Manoj Yadav, Adesh Bhardwaj, Ch. Zubair Ahmad, Vishnu Aarwal, Mirza Javed Ali, Satbir Sharma and Dharampal Chandela

 

The workers meetings at the Block level on 2nd and District meetings on 5th of every month will draw up the roadmap to strengthen the party at all levels for which the RWAs, social and other organizations, prominent citizens, and influential people of the area will be involved.

 

Delhi Pradesh Congress Committee president Shri Devender Yadav said that after the rise in the Congress vote share in the Lok Sabha elections, the morale of the Congress workers have received a fresh impetus, as people now look upto the Congress party to provide an able and stable Government in Delhi, without the stigma of corruption. He said that in the past 10 years, the BJP and the Aam Aadmi Party have ruined Delhi in every possible manner, and Delhiites, who have lost faith in both these parties, now solely rely on the Congress to provide an effective Government, and resume the stalled development and welfare works. He said that Congress’ 15-year rule had changed the face of Delhi with all-round developments, making it one of the most beautiful  cities in the world, and people want those good old days  back once again.

 

Shri Devender Yadav said that the standout performance  of Leader of the Opposition Shri Rahul Gandhi in the Lok Sabha has rekindled hope and expectation among the people and the Congress workers, which was reflected in the meetings of the office-bearers of the District Congress Committees, as a large number of Congress workers and leaders participated in the meetings. He said that  the main purpose of the BCC and DCC meetings was to motivate the Congress workers and strengthen the party by reaching out to people, and find solutions to their problems.

 

Shri Devender Yadav said that the BJP and the Kejriwal Government have put back the development of Delhi by several years with corruption, incompetence and inaction in the past 10 years, and people now consider Congress as their saviours.

सीएचजेयू ने सीएम को सौंपा ज्ञापन, पेंशन 20 हजार करने, सभी पत्रकारों को मान्यता कार्ड व पेंशन देने की मांग


 दैनिक, साप्ताहिक, पाक्षिक, मंथली सभी अखबारों, टीवी व डिजिटल मीडिया के सभी पत्रकारों को मिले मान्यता

- कैशलेस कार्ड जारी करने, पत्रकार पेंशन योजना व प्रेस मान्यता के लिए जारी नई अधिसूचना वापस लेने की मांग

चंडीगढ़, 5 जुलाई ( ) : चंडीगढ़ एंड हरियाणा जर्नलिस्ट यूनियन (सीएचजेयू) ने आज मुख्यमंत्री नायब सिंह से मुलाकात कर पत्रकारों की मांगों को उनके समक्ष रखा और एक ज्ञापन सौंपा। सीएचजेयू ने मुख्यमंत्री से इमरजेंसी दौरान जेल जाने वालों की तरह पत्रकारों की पेंशन भी 20 हजार रुपए महीना करने, सांध्य, दैनिक, साप्ताहिक, पाक्षिक, मंथली छपने वाले मध्यम, लघु व स्थानीय समाचार पत्रों, टीवी व डिजिटल मीडिया के पत्रकारों को प्रेस मान्यता कार्ड पहले की तरह सीए रिपोर्ट पर प्रदान करने व पेंशन योजना के लिए जारी नई अधिसूचना की शर्तों को गैर-तर्कसंगत बताते हुए अधिसूचना वापस लेने की मांग की है। सीएचजेयू के अध्यक्ष राम सिंह बराड़, प्रदेश चेयरमैन बलवंत तक्षक, चंडीगढ़ प्रेस क्लब के अध्यक्ष नलिन आचार्य ने मुख्यमंत्री नायब सिंह को दिए ज्ञापन में सीएम से कहा कि प्रदेश सरकार ने पत्रकारों को कर्मचारियों की तरह कैशलैस मेडिकल सुविधा देने का ऐलान किया था। अभी तक पत्रकारों को कैशलैस मेडिकल कार्ड नहीं मिले हैं।
सीएचजेयू ने मुख्यमंत्री से आग्रह किया कि सभी पत्रकारों को कैशलेस मेडिकल कार्ड की सुविधा दी जाएं। इस मौके पर मुख्यमंत्री के प्रेस सचिव प्रवीण आत्रेय भी मौजूद थे। सीएचजेयू ने सीएम से आग्रह किया कि पत्रकारों की निशुल्क बस सुविधा पर लगी किलोमीटर सीमा हटाते हुए पत्रकारों की अन्य लंबित सभी मांगे भी जल्दी लागू करवाएं। सीएचजेयू ने कहा कि विभाग द्वारा जारी नई अधिसूचना अनुसार परिवार के सिर्फ एक सदस्य को ही पेंशन मिल सकेगी। यानि अगर पति व पत्नि दोनों पत्रकार हैं तो उनमें अगर पति को पहले पेंशन शुरू हो गई तो पत्नी को पेंशन नहीं मिलेगी। पुराने नियमों में ऐसी कोई पाबंदी नहीं थी। इसके अलावा पुराने नियमों में यह प्रावधान था कि अगर पेंशन पाने वाले पत्रकार का निधन हो जाता है, तो उसके जीवन साथी (पत्नी अथवा पति) को पूरी पेंशन मिलेगी। यानि उस समय पत्रकार का निधन होने पर उसके जीवन साथी को पूरी 10 हजार रुपए महीना पेंशन मिलती थी। नए नियमों के अनुुसार अब उनके लिए पेंशन 10 हजार से बढक़र 15 हजार होने की बजाय घटाकर 7,500 रूपए कर दी गई है। इन नियमों में यह भी प्रावधान किया है कि किसी पत्रकार के खिलाफ कोई मामला दर्ज होने पर उसकी पेंशन बंद कर दी जाएगी, यह शर्त भी न्यायसंगत नहीं है। इसके अलावा पेंशन प्रदान करने के नियमों को सरल करने की बजाय और ज्यादा कड़े व सख्त कर दिए हैं। सीएचजेयू अध्यक्ष ने बताया कि मुख्यमंत्री नायब सिंह ने पत्रकारों की मांगों व उन्हें पेश आ रही दिक्कतों को ध्यान से विस्तारपूर्वक सुना और इस संबंध में उनका रवैया बेहद सकारात्मक रहा।

फोटो कैप्शन: सीएचजेयू प्रतिनिधिमंडल अध्यक्ष राम सिंह बराड़, चंडीगढ़ प्रेस क्लब प्रधान नलिन आचार्य, प्रदेश चेयरमैन बलवंत तक्षक के नेतृत्व में मुख्यमंत्री नायब सिंह को ज्ञापन सौंपते हुए। इस अवसर पर सीएम के प्रेस सचिव प्रवीण आत्रेय भी नजर आ रहे हैं।